सुकन्या समृद्धि योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें, Sukanya Samriddhi Yojana 2024 SSY कैलकुलेटर, नियम

सुकन्या समृद्धि योजना | Sukanya Samriddhi Yojana Apply Online | प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना एप्लीकेशन फॉर्म | सुकन्या समृद्धि इंटरेस्ट रेट कैलकुलेटर | Sukanya Samriddhi Application Form | सुकन्या समृद्धि योजना ब्याज दर 2024 | SSY Scheme

भारत के आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा बालिकाओं के लिए अनेक प्रकार की योजनाओं का शुभारंभ किया जा रहा है। जिनका उद्देश्य बालिकाओं को आने वाले समय के लिए आर्थिक समस्या से बचाना है। इस प्रकार हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा Sukanya Samriddhi Yojana 2024 को शुरू किया गया है। जिसके माध्यम से बालिकाओं के माता पिता के द्वारा बालिका की आयु 10 वर्ष पूरी होने से पहले निवेश खाता खोला जाता है। यह निवेश खाता बैंक या पोस्ट ऑफिस में खोला जा सकता है। जिसमें बालिका के माता-पिता के द्वारा न्यूनतम 250 रुपए और अधिकतम 1.5 लाख रुपए हर महीने निवेश के रूप जमा कर सकते है। तो आज के इस लेख के तहत हम आपको  सुकन्या समृद्धि योजना से जुड़ी जानकारी जैसे- यह योजना क्या है, इसका उद्देश्य, लाभ एवं आवेदन करने की प्रक्रिया आदि देने वाले है। हमारा निवेदन है की आप लेख को अंत तक अवश्य पढ़े।

Table of Contents

Sukanya Samriddhi Yojana 2024

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की जाने वाली सुकन्या समृद्धि योजना 2024 के माध्यम से अब बालिका के परिवार बहुत आसानी से बालिका के खर्चे हेतु पैसे जोड़ पाएंगे। इस योजना के माध्यम से 10 वर्ष से कम आयु की बालिकाओं के माता-पिता निवेश खाता खोल सकते है। जिसमें बालिका के माता-पिता के द्वारा न्यूनतम 250 रुपए और अधिकतम 1.5 लाख रुपए हर महीने निवेश के रूप जमा कर सकते है। यह खाता 21 साल या 18 साल की आयु के बाद बालिका की शादी तक संचालित किया जाता है। परन्तु इस खाते में 15 साल तक निवेश करना अनिवार्य है।

सुकन्या समृद्धि योजना

Also Read :- PMKSY Registration 2024 Apply Online, PMKSY Form Last Date, Benefits, Status

जिसके बाद माता पिता अपनी बालिका हेतु की शादी या पढाई के लिए पैसे निकाल सकते है। इस वर्ष हेतु खाते पर निवेश की गई धनराशि पर 7.6% की दर से ब्याज प्रदान किया जाएगा और साथ ही योजना के तहत 1 साल में अधिकतम 1.5 लाख रुपए निवेश करने पर आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80C के तहत टैक्स में छूट भी प्रदान की जाएगी। बालिका के माता पिता जो अपनी बालिका के भविष्य को सुरक्षित कर खाता बनाना चाहते है। उन्हें पहले Sukanya Samriddhi Yojana 2024 के तहत आवेदन करना होगा।

Overview of PM Sukanya Samriddhi Yojana 2024

योजना का नामसुकन्या समृद्धि योजना
आरम्भ की गईकेंद्र सरकार द्वारा
वर्ष2024
लाभार्थीदेश की बालिकाएं
आवेदनकीप्रक्रियाऑफलाइन
उद्देश्यभारत की बालिकाओं को भविष्य में होने वाली आर्थिक समस्याओं से बचाना
लाभबालिकाओं को भविष्य में होने वाली आर्थिक समस्याओं से बचाना
श्रेणीसरकारीयोजनाएं
आधिकारिकवेबसाइट—-

PM Sukanya Samriddhi Yojana 2024

Many types of schemes are being launched for the girls by the respected Prime Minister of India Narendra Modi. Whose aim is to save the girls from economic problems for the coming time. Thus recently Sukanya Pradhan Mantri Samriddhi Yojana 2024 has been started by the Central Government. Through which the investment account is opened by the parents of the girl child before the girl child completes 10 years of age. This investment account can be opened in a bank or post office. In which the parents of the girl child can deposit a minimum of Rs 250 and a maximum of Rs 1.5 lakh as investment every month. So under today’s article, we are going to give you information related to Sukanya Samriddhi Yojana like- what is this scheme, its purpose, benefits and application process etc. We request you to read the article till the end.

Also Read :- प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना 2024: PMKVY Registration व पंजीकरण फॉर्म

Through the Sukanya Samriddhi Yojana 2024 to be launched by the Central Government, now the families of the girl child will be able to add money for the expenses of the girl child very easily. Through this scheme, parents of girls below the age of 10 years can open an investment account. In which the parents of the girl child can deposit a minimum of Rs 250 and a maximum of Rs 1.5 lakh as investment every month. This account is operated till the age of 21 years or till the marriage of the girl child after the age of 18 years. But it is mandatory to invest in this account for 15 years. After which the parents can withdraw money for the marriage or education of their girl child. For this year, interest will be provided at the rate of 7.6% on the amount invested in the account, as well as tax exemption will also be provided under Section 80C of the Income Tax Act, 1961 for investing a maximum of Rs 1.5 lakh in 1 year under the scheme. . The parents of the girl child who want to secure the future of their girl child and create an account. They must first apply under PM Sukanya Samriddhi Yojana 2024.

PNB द्वारा दिया जाएगा सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ

आपको बता दें कि इच्छुक माता-पिता Sukanya Samriddhi Yojana 2024  का लाभ पंजाब नेशनल बैंक द्वारा भी प्रदान कर सकते हैं। केंद्र सरकार द्वारा बालिकाओं के हित में विभिन्न प्रकार की योजनाओं का संचालन किया जाता रहता है ,परंतु यह योजना बालिकाओं के भविष्य के लिए बहुत सुरक्षित है यदि बालिका को आने वाले समय में किसी आर्थिक समस्या का सामना करना पड़ता है। तो वह इस योजना की मदद से अपनी समस्याओं को दूर कर सकती है। प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना 2024 के माध्यम से केंद्र सरकार 10 वर्ष से कम आयु की बालिकाओं सुकन्या खाता खोलकर न्यूनतम 250 अधिकतम एक लाख तक की राशि जमा करने के लिए माता-पिता को प्रेरित करेगी। जिसका उपयोग माता पिता बालिका की शादी एवं पढाई के लिए खर्च करने के साथ साथ बालिका के आने वाले समय के लिए भी छोड़ सकते है।

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत निर्धारित निवेश सीमा

प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना के माध्यम से शुरू किए जाने वाले खाते में खाताधारक न्यूनतम ₹25 0 से अधिकतम ₹100000 तक भी जमा कर सकते हैं। केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत बालिकाओं के माता-पिता को 15 साल तक यह धनराशि जमा करनी होगी। मान लीजिए कि आप की बेटी 8 साल की है तो आपको इस खाते में उसकी 23 साल तक होने तक न्यूनतम निवेश राशि जमा करनी होगी। जिसके पश्चात जब आप इस राशि को निकाले हैं तो आपको निवेश राशि पर परिपक्वता अवधि तक ब्याज भी प्रदान किया जाएगा। खाताधारकों को खाता बनाने के लिए सुकन्या समृद्धि योजना आवेदन करना होगा।

बालिका 18 वर्ष की आयु पूरी होने पर 50% निवेश राशि निकाल सकती है

जैसा कि हमने आपको बताया सभी बालिका के माता-पिता हो को इस खाते में 15 साल तक निवेश करना अनिवार्य होगा। लेकिन कन्या जब 18 वर्ष की हो जाएगी तो अपनी पढ़ाई के लिए से 50% धनराशि निकाल सकती है। केंद्र सरकार द्वारा बताया गया है कि यदि Sukanya Samriddhi Yojana 2024  के तहत बालिका अपने पढ़ाई के लिए राशि निकालना चाहती है। तो वह माता-पिता कानूनी अभिभावक द्वारा एक साथ या किस्तों में राशि को निकाल सकती है। इसके साथ ही यह राशि एक वर्ष में केवल एक बार या अधिकतम 5 सालों तक किस्त में राशि निकली जा सकती है।

Sukanya Samriddhi Yojana टैक्स फ्री

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना को टैक्स फ्री रखा गया है। इस योजना के माध्यम से आयकर अधिकतम 1961 की धारा 80C के तहत डेढ़ लाख रुपए तक निवेश की गई राशि पर कोई टैक्स नहीं लगाया जाएगा। इसके साथ ही केंद्र सरकार द्वारा बताया गया है कि इस योजना के तहत निवेश की गई राशि के साथ-साथ उस पर अर्जित ब्याज के साथ परिपक्वता राशि पर कोई टैक्स नहीं लगेगा। यह सुकन्या समृद्धि योजना 2024 बालिका के माता-पिता की बचत को सुरक्षित रखने के साथ-साथ उनके टैक्स को भी बचाएगी। जिससे कि उन्हें आगे चलकर अधिक फायदा होगा।

अब 7.6% की दर से SSY खाते पर प्रदान किया जाता है ब्याज

आपको बता दें की पहले सुकन्या समृद्धि योजना के माध्यम से निवेशकों कोनिवेश राशि पर 8.4% की दर से ब्याज प्रदान किया जाता था। परन्तु इस समय 7.6% की दर से ब्याज प्रदान कि जाती और साथ ही यह ब्याज की राशि‌ कर मुक्त भी होती हैं। केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई योजना तहत निवेशक के पैसे 9 वर्ष 4 माह में दोगुना करके प्रदान किए जाएंगे। इसके साथ ही योजना के अंतर्गत कोई निवेशक रोज़ाना  ₹100 के हिसाब से निवेश करता हैं। तो उसे परिपक्वता अवधि पर 1500000 रुपए का फंड भी प्राप्त होगा। इस प्रकार अगर निवेशक रोज़ाना ₹416 का निवेश करता है तो परिपक्वति अवधि पर 65000000 रुपए  का फंड प्राप्त हो पाएगा।

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत निवेश खाते की परिपक्वता अवधि

अब आप सभी जान चुके है की Sukanya Scheme 2024 के तहत निवेश खाता खोला जाता है। उसकी परिपक्वता अवधि बालिका के 21या 18 साल की आयु पूरी हो जाने के बाद उसकी शादी हो जाने तक होती हैं। पर आपको बता दें की दोनों स्थितियों में खाते में निवेश खाता खोलने की तिथि से 15 साल की अवधि तक किया हुआ होना चाहिए। उसके बाद अकाउंट में परिपक्वता तक ब्याज मिलता रहेगा। इस इस्तिथि में भी जबकि आप कोई डिपाजिट नहीं कर रहे है।

SSY खाता किन परिस्थितियों में परिपक्वता अवधि से पहले बंद किया जाएगा

  • पहला 18 साल की आयु हो जाने पर शादी के लिए- बालिका द्वारा 18 साल की आयु हो जाने के बाद अपनी शादी के खर्च हेतु खाते को परिपक्वता अवधि से पहले बंद किया जा सकता है।
  • दूसरा आर्थिक रूप से खाता जारी रखने में असमर्थ होने पर– बालिका के माता-पिता आर्थिक रूप से खाता जारी रखने में असमर्थ होते हैं। तो वह खाते को बंद कर सकते हैं। इस स्तिथि में खता बंद करने से पहले उन्हें संबंधित अधिकारी से अनुमति लेनी होगी।
  • तीसरा खाताधारक की आकस्मिक मृत्यु होने की स्थिति में- यदि बालिका की अकास्मिक मृत्यु हो जाती हैं। तो इस स्थिति में माता-पिता या कानूनी अभिभावक PM Sukanya Samriddhi Yojana 2024 खाते में जमा राशि और उस पर अर्जित ब्याज निकाल सकते हैं। यह राशि निकालने हयु माता-पिता या कानूनी अभिभावक द्वारा खाताधारक की मृत्यु हो जाने से जुड़े संबंधित अधिकारी द्वारा वेरीफाई हुए दस्तावेजों को जमा करना अनिवार्य होगा। इसके बाद माता-पिता या कानूनी अभिभावक के खाते में धनराशि हस्तांतरित कर दिए जाएंगे।

नोटकेंद्र सरकार द्वारा इस प्रकार के कोई भी निर्देश नहीं दिए है कि यदि माता-पिता खाते में निवेश करने में समर्थ नहीं है। तो वह खाते को समय से पहले बंद कर सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना कैलकुलेटर

सभी खाताधारक द्वारा मैच्योरिटी योजना केलकुलेटर के माध्यम से कैलकुलेट की जा सकती है। आपको बता दें की केलकुलेटर हर साल किए गए निवेश और आपके द्वारा उल्लेखित ब्याज दर जैसे विवरणों का इस्तेमालकरके मैच्योरिटी राशि की जानकारी प्रदान करता है। यदि आप अपने खाते की मैच्योरिटी राशि कैलकुलेट करना चाहते हैं। तो PM Sukanya Samriddhi Yojana 2024 के कैलकुलेटर के माध्यम से आसानी से कैलकुलेट कर सकते हैं। अब बात इस समय की जाए तो इस समय निवेश पर 7.6% के हिसाब से ब्याज प्रदान किया जा रहा है।

Sukanya Samriddhi Yojana 2024 खाता ट्रांसफर

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई सुकन्या समृद्धि योजना से शुरू किए जाने वाले कहते को निवेशधारक द्वारा भारत के किसी भी एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे पोस्ट ऑफिस में या किसी एक बैंक से दूसरे बैंक में ट्रांसफर किया जा सकता है। आपको बता दें की यह सुविधा निवेशक को उस समय दी जाएगी। जब खाताधारक अपने मूल जगह से कहीं ओर ट्रांसफर हो रहा होगा। जब आप शिफ्ट होने का सबूत दिखाएगे तोहि आपको इस सुविधा का लाभ प्रदान किया जाएगा।  यदि आपके पास शिफ्ट होने का सबूत नहीं निकलता है। तो उसे जहां उसका खाता खुला हुआ है वहां पर ₹100 शुल्क देना होगा। भारत के जिस बैंक या पोस्ट ऑफिस में कोर बैंकिंग सिस्टम की सुविधाएं उपलब्ध है। वहां पर SSY खाता इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से खाताधारक ट्रांसफर करा सकता है।

लाभार्थी देश के कौनकौन से बैंक में SSY अकाउंट खुलवा सकता है

यदि आप यह जानना चाहते है की आप किस बैंक में खाता खुलवाना चाहते है। तो आपको नीचे बताया गया है। इसके साथ ही आपको बता दें की देश में भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा अधिकृत 28 बैंक है। जिनमे से आप अपना खाता खुल व सकते है।

  • केनरा बैंक
  • देना बैंक
  • ऐक्सिस बैंक
  • आंध्रा बैंक
  • बैंक ऑफ इंडिया
  • भारतीय स्टेट बैंक
  • पंजाब नेशनल बैंक
  • बैंक ऑफ बड़ौदा
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  • इलाहाबाद बैंक
  • पंजाब एंड सिंध बैंक
  • ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स
  • स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद
  • यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
  • यूको बैंक
  • यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया
  • विजय बैंक
  • ऐक्सिस बैंक
  • स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर
  • स्टेट बैंक ऑफ पटियाला
  • स्टेट बैंक ऑफ मैसूर
  • आईडीबीआई बैंक
  • आईसीआईसीआई बैंक
  • स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर

समृद्धि योजना का एक परिवार की कितनी बालिकाओं को मिलेगा लाभ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा शुरू की गई Sukanya Samriddhi Yojana 2024 के तहत एक परिवार के केवल दो बालिकाए ही खाता खोलने के पात्र रखी गई है परंतु कुछ विशेष मामलों में एक परिवार की दो से अधिक बालिकाएं निवेश खाता खोल सकती है। जिसकी जानकारी हमने आपको नीचे दी है। जो इस प्रकार है:-

  • यदि परिवार में जुड़वा या तिड़वा बालिकाओं के जन्म से पहले एक बार बालिका का जन्म होता है या पहले एक साथ तीन बच्चे जन्म लेते हैं तो तीसरा खाता खोला जा सकता है। 
  • यदि जुड़वा या तिड़वा बालिका के बाद एक और बालिका का जन्म होता है। तो बस जुड़वाएं या तिड़वा बालिका ही निवेश खाता खोल सकती हैं। उनके बाद जन्म लेने वाली बालिका खाता नहीं खोल सकती है।

PM Sukanya Samriddhi Yojana 2024 का उद्देश्य

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई योजना का मुख्य उद्देश्य बालिकाओं को भविष्य में आने वाली आर्थिक समस्याओं से बचाना है। इस महंगाई ने आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों को कस के पकड़ रखा है। आर्थिक समस्या के कारण परिवार विशेषकर बालिकाओं को शिक्षा प्राप्त कराने से बचते हैं क्योंकि वह सोचते हैं कि बालिका की पढ़ाई पर या उसकी शादी पर पैसा खर्च करें। इस कारण ही बालिका शिक्षा से वंचित रह जाती है और आने वाले समय में अधिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इस समस्या को देखते हुए ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा सुकन्या समृद्धि योजना 2024 का शुभारंभ किया गया है।

जिसके माध्यम से बालिका के माता-पिता बालिका के लिए निवेश खाता खोल सकते हैं अपने अनुसार थोड़े-थोड़े पैसे खाते में जमा कर सकते हैं। जिससे कि आने वाले समय में बालिका के लिए अधिक समय अधिक पैसे जमा हो पाते हैं। प्रधानमंत्री जी द्वारा शुरू की गई Sukanya Samriddhi Yojana के माध्यम से बालिकाएं आत्मनिर्भर एवं सक्षम बनेगी और अपनी दैनिक आवश्यकताओं को स्वयं पूरा कर सकेंगी।

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

  • PM Sukanya Samriddhi Yojana 2024 के तहत खोले गए खाते में हर साल 250 रुपए जमा करना ज़रूरी होगा । अगर किसी स्थिति में खाताधारक वर्ष में न्यूनतम 250 रुपए जमा नहीं करता है। तो उसके खाते को डिफॉल्ट खाता कहा जाएगा। इस डिफॉल्ट खाते पर भी खाताधारक को परिपक्वता अवधि तक लागू ब्याज प्राप्त होता रहेगा।
  • बालिका 18 साल की आयु पूरी कर लेने के बाद अपना सुकन्या समृद्धि योजना के खाता खुद संचालित कर सकती है। इसके लिए उसे पोस्ट ऑफिस या बैंक जहां पर उसका SSY खाता खुला हुआ है। वहां पर जाकर सभी आवश्यक दस्तावेजों को जमा करना होगा।
  • जब बालिका 10वीं कक्षा पास कर ले। तो उसके के बाद कन्या अपने खाते में से 50% राशि एकमुश्त या किस्तों में निकाल सकती है। आपको बता दें की यह राशि साल में एक बार और अधिकतम 5 साल तक किस्तों में निकाली जा सकती हैं।
  • Samriddhi Yojana 2024 अकाउंट का मैच्योरिटी पीरियड 21 वर्ष है। परंतु कुछ परिस्थितियों में जैसे-18 वर्ष की आयु के बाद शादी होने पर, खाता धारक की मृत्यु हो जाने पर या आर्थिक रूप से खाता संचालित करने में परेशानी आने पर खाते को बंद किया जा सकता है।
  • इस के साथ ही योजना के तहत खोले गए निवेश खाते को देशभर में एक बैंक से दूसरे बैंक या एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर करने की सुविधा भी प्रदान की जाती है।

Sukanya Samriddhi Yojana 2024 के लाभ

  • आदरणीय नरेंद्र मोदी जी द्वारा भारत देश की 10 साल की आयु से कम की बालिकाओं के भविष्य को आर्थिक तंगी से बचाने हेतु इस योजना की शुरुआत की गई है। 
  • सुकन्या समृद्धि स्कीम के माध्यम से खाताधारक को निवेश राशि पर 7.6% की दर से ब्याज प्रदान किया जाएगा। 
  • आपको बता  दें की केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई अन्य योजनाओं अपेक्षा में इस योजना में निवेशकों को अधिक ब्याज दर पर गारंटी के साथ रिटर्न प्रदान किया जाएगा।
  • Sukanya Samriddhi Yojana के तहत आयकर अधिनियम  की धारा 80C के तहत प्रत्येक वर्ष ₹500000 तक के कर में छूट प्रदान की जाती है।
  • इस योजना के तहत निवेशक अपनी वित्तीय स्थिति के अनुसार हर साल न्यूनतम ₹250 और अधिकतम 1.5 लाख रुपए तक निवेश कर सकते है।

सुकन्या समृद्धि स्कीम के तहत पात्रता

  • इस योजना के अंतर्गत बालिका के माता-पिता या कानूनी अभिभावक द्वारा ही खाता खोला जा सकता है। 
  • इच्छुक माता-पिता या अभिभावक भारत के स्थाई निवासी होने अनिवार्य है। 
  • आपको बता दें कि Sukanya Samriddhi Yojana का लाभ एक परिवार के केवल 2 लड़कियां ही करने के पात्र हैं। यदि किसी परिवार में एक लड़की के बाद दो जुडवा लड़कियां जन्म लेती है। तो इस स्थिति में जुड़वा लड़कियों का अलग-अलग निवेश खाता खोला जा सकता है। 
  • इस योजना के तहत 10 वर्ष की आयु की बालिका का ही निवेश खाता खोला जाएगा।

आवश्यक दस्तावेज

  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र। 
  • निवास प्रमाण पत्र। 
  • चिकित्सा प्रमाण पत्र। 
  • बैंक या डाकघर द्वारा मांगे जाने वाले सभी आवश्यक दस्तावेज का होना। 
  • माता-पिता या कानूनी अभिभावक का आधार कार्ड, पैन कार्ड, पहचान पत्र {जिनके द्वारा खाता संचालित किया जाता है}

सुकन्या समृद्धि योजना 2024 के तहत अकाउंट कैसे खोल सकते है?

यदि आप सुकन्या समृद्धि योजना के तहत अकाउंट खोलना चाहते हैं तो आपको नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करना होगा :- 

  • सबसे पहले पोस्ट ऑफिस या अपने नजदीकी बैंक  से माता-पिता या कानूनी अभिभावक को योजना का आवेदन फॉर्म प्राप्त करना है।
  • अब इस फॉर्म मर मांगी गई सभी जानकारियों को ध्यानपूर्वक दर्ज करना होगा। इसके बाद मनगर गए सभी आवश्यक दस्तावेज़ों को फॉर्म के साथ संग्लन करना होगा। 
  • सभी जानकारी दर्ज कर फॉर्म को पढ़ने के बाद आपको फॉर्म को उसी पोस्ट ऑफिस या बैंक में जमा करना है। जहां से आपने इसे प्राप्त किया था।
  • इस प्रकार आप Sukanya Samriddhi Yojana 2024 के तहत आवेदन कर सकते हैं।

अपने SSY खाते का बैलेंस चेक करने की प्रक्रिया

यदि आप सुकन्या समृद्धि योजना के खाते का बैलेंस चेक करना चाहते हैं तो आपको नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करना होगा :- 

  • सबसे पहले आपको अपने बैंक से लॉगिन क्रैडेंशियल्स प्रदान करने का निवेदन करना है।
  • आपको  बता दें की लॉगइन क्रैडेंशियल्स सभी बैंकों के द्वारा प्रदान नहीं किया जाता है। यह सुविधा केवल कुछ विशेष बैंक ही प्रदान करते हैं।
  • अब लॉगइन क्रैडेंशियल्स प्राप्त करने के बाद आपको बैंक के इंटरनेट बैंकिंग पोर्टल पर लॉगइन करना है। अब आपकी स्क्रीन पर होमपेज खुल जाएगा।
  • अब आपको कन्फ़र्म बैलेंस के विकल्प पर क्लिक करना होगा। 
  • जैसे ही आप क्लिक करेंगे आपके सामने सुकन्या समृद्धि खाते की राशि खुलकर आ जाएगी।

सुकन्या समृद्धि योजना की कुछ नियम शर्तें

कुछ निवेश की शर्तें एवं नियम

  • पहली खाता खुलवाने की आयु:- लाभार्थी बालिका की 10 वर्ष की आयु होने से पहले अभिभावक द्वारा खाता खोला जा सकता है।
  • दूसरी खाते की संख्या:- एक लड़की हेतु केवल एक ही खाता योजना के अंतर्गत खोला जा सकता है। Sukanya Samriddhi Yojana के अंतर्गत एक बेटी हेतु माता द्वारा अलग तथा पिता द्वारा अलग खाता नहीं खोला जा सकता है।
  • तीसरी परिवार के खाताधारकों की संख्या:- एक परिवार की केवल दो बेटियां ही योजना का लाभ उठाने के पात्र हैं।
  • चौथी जुड़वा बेटियों की स्थिति में एक परिवार की खाताधारक की संख्या:- अगर जुड़वा या  ट्रिपलेट बेटियों का जन्म होता है। तो इस दशा में दो से अधिक खाते भी खोले जा सकते हैं।
  • पांचवी खाते का संचालन:- सुकन्या समृद्धि खाते को खाताधारक की 18 वर्ष की आयु होने तक खाता धारक के अभिभावक द्वारा संचालित किया जाता है। उसके बाद खाताधारक खाते को स्वम संचालित करेगी।

अधिकतम एवं न्यूनतम राशि जमा करने के नियम शर्तें

  • पहली न्यूनतम खाता खोलने हेतु राशि:- इस योजना के अंतर्गत खाता न्यूनतम 250 रुपए में खोला जा सकता है।
  • दूसरी न्यूनतम प्रतिवर्ष निवेश:- हर साल योजना के अंतर्गत लाभार्थी को 250 रुपए का निवेश करना अनिवार्य होगा।
  • तीसरी डिफॉल्ट की स्थिति:- अगर खाताधारक द्वारा हर साल न्यूनतम 250 रुपए का निवेश नहीं किया जाता है। तो इस स्थिति में खाते को डिफॉल्ट कर दिया जाएगा। परन्तु डिफॉल्ट खाते में 250 रुपए की न्यूनतम राशि का भुगतान एवं ₹50 की पेनल्टी का भुगतान करके खाते को पुनर्जीवित किया जा सकता है।
  • चौथा अधिकतम निवेश राशि:- सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत अधिकतम ₹150000 तक की राशि का निवेश किया जा सकता है।
  • पांचवा खाता खोलने के महत्वपूर्ण दस्तावेज:- इस योजना के अंतर्गत खाता खोलने हेतु अभिभावक को फॉर्म-1, बेटी का जन्म प्रमाण पत्र तथा अभिभावक का पैन कार्ड और आधार नंबर जमा करना होगा।
  • छठा निवेश करने की अवधि:- Sukanya Samriddhi Yojana  के अंतर्गत खाता खोलने की तिथि से 15 साल तक निवेश किया जाएगा।

कुछ परिपक्वता, कर लाभ एव ब्याज दर से संबंधित नियम शर्तें

  • पहली परिपावकता आयु:- इस योजना के तहत खाता खुलने से 21 साल बाद या फिर बालिका के विवाह के समय 18 वर्ष की आयु होने के बाद परिपक्व हो जाएगा।
  • दूसरी इंटरेस्ट रेट:- केंद्र सरकार द्वारा हर तिमाही आधार पर इंटरेस्ट रेट की अधिसूचना जारी की जाएगी। जनवरी 2021 से मार्च 2021 हेतु योजना के अंतर्गत इंटरेस्ट रेट 7.6% है।
  • तीसरी ब्याज राशि:- सुकन्या समृद्धि योजना 2024 के अंतर्गत ब्याज राशि वित्तीय वर्ष के अंत में खाते में जमा किया जाएगा। इस खाते को पोस्ट ऑफिस या फिर बैंक में आसानीपूर्वक खुलवाया जा सकता है।
  • चौथी कर लाभ:- इस योजना के तहत सेक्शन 80C के अंतर्गत निवेश कर मुक्त है। इस योजना के अंतर्गत प्राप्त हुआ ब्याज तथा परिपक्वता राशि भी कर मुक्त है।

खाते की प्रीमेच्योर क्लोजर से संबंधित कुछ नियम शर्ते

  • पहली प्रीमेच्योर क्लोजर:- इस खाते को समय से पहले (खाता खोलने के 5 साल बाद) बंद कराया जा सकता है।
  • दूसरी खाता धारक की मृत्यु:- अगर खाता धारक की मृत्यु हो जाती है तो इस दशा में खाता बंद किया जा सकता है।
  • तीसरी जानलेवा रोग की स्थिति:- अगर खाताधारक को किसी प्रकार का जानलेवा रोग हो जाता है। तो इस स्थिति में भी यह खाता बंद किया जा सकता है।
  • चौथी अभिभावक की मृत्यु:- खाताधारक के अभिभावक (जो खाते का संचालन करता है) की मृत्यु की स्थिति में भी खाता बंद किया जा सकता है।

सुकन्या समृद्धि खाते से पैसे निकालने के नियम शर्तें

  • पहली निकासी करने की स्थिति:- इस सुकन्या समृद्धि योजना के खाते से पिछले वित्तीय वर्ष के अंत में उपलब्ध शेष राशि का अधिकतम 50% तक की निकासी की जा सकती है। यह निकासी बालिका की शिक्षा हेतु ही की जाएगी। 
  • दूसरी सुकन्या समृद्धि खाते निकासी करने हेतु आयु:- यह निकासी बालिका की 18 वर्ष की आयु पूरी होने पर या फिर दसवीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद (दोनों स्तिथि में से जो भी पहले हो) के लिए की जा सकती है।
  • तीसरी निकासी का प्रकार:- इस खाते से निकासी एक साथ या  किस्तों में भी की जा सकती है।

Samriddhi Yojana 2024 के कुछ मुख्य दिशा निर्देश

  • नरेंद्र मोदी जी द्वारा इस योजना का शुभारम्भ देश की बालिकाओं के उज्जवल भविष्य के लिए की गई है।
  • इस योजना के अंतर्गत अकाउंट को बेटी के नाम पर खोला जाता है। यह अकाउंट बेटी की 10 वर्ष की आयु होने से पहले खोला जाता है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना 2024 के अंतर्गत आयकर अधिनियम 80C के अंतर्गत डिडक्शन भी प्रदान की जाती है। 
  • लाभार्थी बालिका 18 वर्ष की आयु नहीं प्राप्त कर लेती तब तक योजना के अंतर्गत खोला हुआ खाता बालिका के माता-पिता द्वारा ही संचालित किया जाता रहता है।
  • PM Sukanya Samriddhi Yojana के अंतर्गत अपना खाता खुलवाने हेतु बालिका के एवं उसके माता-पिता को कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज जैसे कि आधार नंबर, पैन नंबर आदि जमा करने होंगे।
  • आपको बता दें की योजना के अंतर्गत खाता खुलवाने के लिए न्यूनतम 250 रुपए प्रतिवर्ष का निवेश करना होगा। साथ ही प्रत्येक परिवार में केवल दो अकाउंट खोले जा सकते हैं।
  • इसके साथ ही अगर खाताधारक द्वारा न्यूनतम निवेश नहीं किया जाएगा। तो खाता डिफॉल्ट  जाएगा।
  • डिफॉल्ट खाते को 15 साल की अवधि के अंतर्गत दोबारा से खुलवाया जा सकता है।
  • जिसके लिए डिफॉल्ट के प्रत्येक वर्ष के न्यूनतम 250 रुपए की राशि जमा करनी होगी।
  • Sukanya Samriddhi Yojana  2024  के अंतर्गत निवेशक अधिकतम राशि  ₹150000 भी जमा कर सकता है।
  • सरकार द्वारा निवेश की राशि पर 7.60% का इंटरेस्ट प्रदान किया जाता है।
  • बालिका की शिक्षा हेतु अकाउंट को मैच्योरिटी से पहले 50% राशि निकाली जा सकती है और साथ ही 50% राशि बालिका की 18 वर्ष की आयु पूर्ण होने के पश्चात निकाली जा सकती है।
  • आपको बता दें की सुकन्या समृद्धि खाता खुलवाने की तिथि से 21 वर्ष की अवधि के बाद मैच्योर हो जाता है। जब बालिका का विवाह होता है। तो इस खाते को बंद कर दिया जाता है।

Leave a Comment