Zepto Success Story: 19 साल की उम्र में College छोड़कर कैसे बना दी इन्होने 11000 करोड़ की कंपनी

Zepto Success Story :- भारतीय स्टार्टअप परिदृश्य में इन स्टार्टअप्स के कई खाते हैं, जहां बेहद युवा लोगों ने कई महत्वपूर्ण व्यवसायों की स्थापना की। आज हमने ऐसे ही एक स्टार्टअप की कहानी शेयर की है। जहां 19 साल के एक लड़के ने 11,000 करोड़ रुपये का बिजनेस खड़ा कर दिया। 

19 साल की उम्र में उपयोग किस तरह किया

19 से 20 साल की उम्र में जब ज्यादातर लोग रिश्तों में फंसे होते हैं या अपने अगले कदम को लेकर अनिश्चित होते हैं। इस 19 साल के लड़के ने कुछ ऐसा किया है जिसने हर किसी को चौंका दिया है। यहां हम बात कर रहे हैं मुंबई के मूल निवासी आदित पालीचा की जिन्होंने 19 साल की उम्र में Zepto कंपनी की स्थापना की और जिसकी कीमत अब 11,000 करोड़ रुपये है। 

आज हम आदित की उपलब्धियों के बारे में सुनेंगे और कैसे वह इतनी कम उम्र में इतना बड़ा निगम स्थापित करने में कामयाब रहे। आप आज के आर्टिकल में Zepto की सफलता की कहानी पढ़ सकते हैं और जान सकते हैं कि कैसे 19 साल की छोटी सी उम्र में आदित ने Zepto को 11,000 करोड़ रुपये के बिजनेस में बदल दिया।

ऐसे हुई थी Zepto की शुरुआत

अदित पालीचा मुंबई के एक भारतीय मूल निवासी हैं जिन्होंने संयुक्त राज्य अमेरिका में स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से अपनी पढ़ाई पूरी की। आदित की व्यवसाय में रुचि उनके शुरुआती वर्षों से है, यही वजह है कि 17 साल की उम्र में उन्होंने GoPool नामक एक कंपनी बनाई।

Zepto की शुरुवाती उपाधि

वह और उनके दोस्त कैवल्य वोहरा एक दिन साथ बैठे थे, तभी अचानक उन दोनों के मन में Zepto लॉन्च करने का विचार आया। भारत में जब कोई व्यक्ति ऑनलाइन कुछ ऑर्डर करता है तो वह देखता है कि सामान आमतौर पर 1 से 2 दिन के अंदर आ जाता है। 2021 में कोरोना महामारी के दौरान अदित और कैवल्य ने इस समस्या का समाधान खोजने के लिए Zepto Corporation की स्थापना की।

कॉलेज छोड़कर सफलता की ओर बढ़ना

Zepto के निर्माता अदित और कैवल्य ने अपनी कंपनी का विचार आने के बाद तुरंत कॉलेज छोड़ दिया और पूरी तरह से ज़ेप्टो को विकसित करने पर ध्यान केंद्रित किया। Zepto में अभी 1000 कर्मचारी हैं और यह मुंबई में स्थित है। 2021 से पहले कंपनी का नाम किरानाकार्ट था, लेकिन इसे बदलकर Zepto कर दिया गया।

आज यह 11,000 करोड़ की कंपनी बन चुकी हैं

केवल एक महीने के बाद, Zepto कंपनी का मूल्यांकन $200 मिलियन हो गया क्योंकि कई स्टार्टअप निवेशकों ने इसमें मूल्य देखा था और समझदारी से निवेश किया था। ज़ेप्टो ऑनलाइन किराना डिलीवरी के लिए 100 करोड़ रुपये से अधिक के मूल्यांकन वाली पहली यूनिकॉर्न फर्म है।

वर्तमान में Zepto कंपनी का मूल्य 2023 में 140 बिलियन डॉलर से अधिक है। जो भारत में 11000 बिलियन रुपये से अधिक का मूल्य है। जब Zepto Funding की बात आती है। तो सभी निवेशकों ने अब तक कंपनी को कुल $561 मिलियन का योगदान दिया है।

Overview of Zepto Success Story 

Article TitleZepto Success Story
Startup NameZepto
FounderAadit Palicha & Kaivalya Vohra
HomeplaceMumbai, India
Zepto Revenue (FY 2023)$50Million – $60Million
Official Websitehttps://zeptonow.com/
Our Telegram Channel LinkClick Here

Zepto Founders Interview 

Zepto के संस्थापकों के इतने सफल होने का कारण यह है कि उन्होंने अपनी व्यावसायिक अवधारणा पर काम किया और उस पर विश्वास किया। कृपया इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ साझा करें ताकि वे Zepto Success Story के बारे में अधिक जान सकें। हमें उम्मीद है कि इसने आपको Zepto Success Story के बारे में जानकारी प्रदान की है। आशा है कि इससे आपको ज़ेप्टो की सफलता की कहानी की बेहतर समझ मिली होगी। इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करके उन्हें Zepto की सफलता के बारे में बताएं।

Zepto Success Story के कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न 

Zepto के संस्थापक कौन है?

अदित पालिचा और कैवल्य वोहरा, दो कॉलेज मित्र, जो ज़ेप्टो के संस्थापक हैं, ने वर्ष 2021 में कंपनी की स्थापना की।

Zepto कंपनी किस प्रकार का कार्य करती है?

ज़ेप्टो कंपनी एक नई ऑनलाइन फर्म है जो 10 मिनट में सुपरमार्केट डिलीवरी में माहिर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *